कैलेंडर 2023 : करवाचौथ

कार्तिक मास के कृष्णा पक्ष की चतुर्थी को संकष्टी चतुर्थी के नाम से जाना जाता है और इसे ही करवा चौथ कहा जाता है। सिर्फ इतना ही नहीं, भारत में कही कही करवाचौथ को करक चतुर्थी के नाम से भी जाना जाता है। करवा या करक का अर्थ घड़ा होता है, जिससे चंद्रोदय के बाद चन्द्रमा को अर्घ्य दिया जाता है। चलिए इस पोस्ट में हम जानते है की करवाचौथ कब की है 2023 में – Karva Chauth Kab Ki Hai 2023 Date

करवाचौथ 2023 – Karvachauth 2023 Date

विवरणजानकारी
वर्ष2023
व्रत/त्यौहारकरवाचौथ 2023
तारीख और दिन31 अक्टूबर 2023, मंगलवार
तिथि/पक्षकार्तिक मास की कृष्णा पक्ष की चतुर्थी
शुभ मुहूर्त की शुरुआतशाम 5 बजकर 36 मिनट
शुभ मुहूर्त की समाप्तिशाम 6 बजकर 42 मिनट
चन्द्रमा निकलने का समय8 बजकर 15 मिनट
2023 में करवाचौथ कब की है – 2023 Mein Karva Chauth Kab Hai

करवाचौथ कब की है 2023 में – Karva Chauth Kab Ki Hai 2023 Date in Indian Calendar

सनातन धर्म में करवाचौथ के त्यौहार का विशेष महत्व है, यह व्रत हिन्दू धर्म की सुहागन महिलाओं के लिए होता है तथा वो यह व्रत अपने पति की लम्बी उम्र के लिए रखती है। करवाचौथ के व्रत को सभी व्रतों में सबसे कठिन बताया गया है। यह व्रत निर्जल रखा जाता है और शाम को पूजा करके, चंद्रोदय के बाद चन्द्रमा को अर्घ्य देकर अपने व्रत का पारण किया जाता है। जिसके बात व्रत को खोला जाता है।

Karva Chauth Kab Ki Hai 2023 Date- हिन्दू धर्म शास्त्रों के मुताबिक, करवा चौथ हर वर्ष कार्तिक मास की कृष्णा पक्ष की चतुर्थी के दिन किया जाता है। साल 2023 में करवाचौथ का व्रत 31 अक्टूबर 2023 का है, जिस दिन मंगलवार है। विवाहित स्त्रियों के साथ साथ, अविवाहित स्त्रियाँ भी इस व्रत को अच्छे वर की कामना के लिए रखती है। ।

करवाचौथ का शुभ मुहूर्त 2023 – Karvachauth Shubh Muhurat 2023

करवाचौथ के दिन सुहागन स्त्रियाँ, सूर्योदय से पहले स्नान आदि करके अपनी सास द्वारा भेजी गयी सरगी ग्रहण करती है और फिर पुरे दिन निर्जला व्रत रहकर चंद्रोदय के बाद चन्द्रमा को अर्घ्य देकर अपने व्रत का पारण करती है।

इस दिन चाँद निकलने से पहले व्रत में पूजा की जाती है और चाँद निकलने के बाद व्रत को खोला जाता है। ज्योतिषचार्यों के अनुसार, करवाचौथ की पूजा का शुभ मुहूर्त शाम 5 बजकर 36 मिनट से शाम 6 बजकर 42 मिनट तक है। जो लगभग 1 घंटे 6 मिनट तक का है। इस दिन व्रत के लिए चंद्रोदय का समय 8 बजकर 15 मिनट रहेगा।

करवाचौथ के कुछ नियम

करवाचौथ का व्रत बहुत ही महत्वपूर्ण व कठिन होता है, जिस वजह से इस व्रत को नियम अनुसार और पूरी सावधानी पूर्वक करना चाहिए। इस व्रत के नियम कुछ इस प्रकार है-

  • करवाचौथ का व्रत सूर्योदय से पहले से शुरू कर चाँद निकलने तक रखना चाहिए और चन्द्रमा के दर्शन के पश्चात ही इसको खोला जाता है।
  • शाम के समय चंद्रोदय से 1 घंटा पहले सम्पूर्ण शिव परिवार की पूजा की जाती है।
  • पूजन के समय देव प्रतिमा का मुख पश्चिम की तरफ होना चाहिए तथा स्त्री को पूर्व की तरफ मुख करके बैठना चाहिए।

करवाचौथ अन्य सवाल जवाब

  1. साल 2023 में करवाचौथ कब है?

    Karva Chauth Kab Hai 2023- हिन्दू धर्म शास्त्रों के मुताबिक, करवा चौथ हर वर्ष कार्तिक मास की कृष्णा पक्ष की चतुर्थी के दिन किया जाता है। साल 2023 में करवाचौथ का व्रत 31 अक्टूबर 2023 का है, जिस दिन मंगलवार है। विवाहित स्त्रियों के साथ साथ, अविवाहित स्त्रियाँ भी इस व्रत को अच्छे वर की कामना के लिए रखती है।

हमारी पोस्ट पढ़ने के लिए धन्यवाद्, आप हमारे साथ सोशल मीडिया से भी जुड़ सकते है !

Feedback/Suggestion- अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो या इसमें कोई कमी लगी हो तो आप कमेंट करके अपनी राय भी हमे दे सकते है।

Leave a Comment