कैलेंडर 2023 : शारदीय नवरात्री

2023 में शारदीय नवरात्री कब की है - 2023 mein Shardiya Navratri Kab Hai

देवी भागवत पुराण के अनुसार, आश्विन मास में माता की पूजा अर्चना व नवरात्र का व्रत करने से देवी दुर्गा की कृपया सम्पूर्ण वर्ष बनी रहती है।

कैलेंडर 2023: महाशिवरात्रि 2023

महाशिवरात्रि कब है 2023 में | Mahashivratri Kab Hai 2023 Mein date

उत्तर भारत के पंचांग के अनुसार फाल्गुन मास के कृष्णा पक्ष की चतुर्दर्शी को महाशिवरात्रि का आयोजन किया जाता है।

कैलेंडर 2022: त्यौहार हिंदी में

2022 का त्यौहार हिंदी कैलेंडर - 2022 Festival Calendar in Hindi

हर साल की तरह 2022 में भी सभी त्यौहार आएंगे और खुशियों के साथ जायेंगे। जिसके लिए ये जानना जरुरी है की साल 2022 में किस महीने में कौन सा हिन्दू त्यौहार है या कहें तो कैलेंडर 2022 में हिन्दू त्यौहार कब व किस दिन है।

कैलेंडर 2023 : हनुमान जयंती

हनुमान जयंती कब हैं 2023 - Hanuman Jayanti Kab Hai 2023

कहा जाता है की हनुमान जयंती के दिन जो भी व्यक्ति हनुमान जी की भक्ति और दर्शन करता है तो उसके सभी दुःख और दर्द दूर हो जाते है

सभी एकादशियों के नाम लिस्ट

एकादशी के नाम लिस्ट | Ekadashi Ke Naam List

हर महीने 2 एकादशी के व्रत होते है, जिसमे एक कृष्णा पक्ष का और दूसरा शुक्ल पक्ष का। एकादशी का व्रत यदि पूरी श्रद्धा, मन और भक्ति भाव के साथ किया जाये तो यह व्रत सभी सुखों को देने वाला है।

कैलेंडर 2022: जुलाई ग्यारस व्रत

जुलाई में एकादशी कब है 2022 | July Mein Ekadashi Kab Hai 2022

सभी एकादशियों के व्रत भगवान विष्णु को समर्पित हैं, जो भक्त एकादशी का व्रत पवित्र मन से करते हैं उनके सारे पाप नष्ट हो जाते हैं और को मोक्ष की प्राप्ति होती है।

आज एकादशी व्रत पारण 2022

एकादशी व्रत पारण हिंदी

एकादशी के व्रत का पारण द्वादशी तिथि समाप्त होने से पहले करना अति आवश्यक हैं। द्वादशी तिथि के समाप्त होने से पहले पारण नहीं करना एक पाप के सामान माना जाता हैं।

आज का एकादशी व्रत समय

आज एकादशी कितने बजे से शुरू है | आज एकादशी कब तक है

हिन्दू धर्म में एकादशी का एक अलग ही महत्त्व है इसमें भगवान विष्णु की पूजा और आराधना की जाती है।

आज की एकादशी व्रत कथा

आज की एकादशी व्रत कथा सुनाएं - Today's Ekadashi Vrat Katha in Hindi Aaj

हर एक साल में कुल 24 एकादशी होती है यानि हर महीने में दो एकादशी, लेकिन जब अधिकमास मल मास आता है तो संख्या साल में 26 हो जाती है।